बैंक खाता लेनदेन सीमा बढ़ाने के लिए आवेदन और जानकारी भी

बैंक खाता लेनदेन सीमा बढ़ाने के लिए आवेदन और जानकारी भी।

Application Banking

हेलो दोस्तों और LETTER.INFOFRIENDLY.COM में आपका स्वागत है।आज हम बात करेंगे बैंक अकाउंट ट्रांजैक्शन लिमिट बढ़ाने के लिए एप्लीकेशन और जानकारी के बारे में भी। और हम सीखेंगे कि UPI (PhonePe, Paytm, Google Pay,…) ट्रांजैक्शन लिमिट बढ़ाने और ATM की ट्रांजैक्शन लिमिट बढ़ाने के लिए एप्लीकेशन कैसे लिखें।

इसलिए आज मैं आपको दोनों एप्लीकेशन और कुछ जानकारियों के बारे में बताने जा रहा हूं जो आपको पता होनी चाहिए।

इंग्लिश में पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे: Application to increase bank account transaction limit and also information

यह भी पढ़ें:

बैंक खाता लेनदेन सीमा क्या है?

  • लेनदेन का अर्थलेनदेन।
  • वहीं, ट्रांजैक्शन लिमिट का मतलब हैट्रांजैक्शन की लिमिट।
  • अगर आप लेनदेन की सीमा बढ़ाना चाहते हैं तो इसका मतलब है कि आप अपने लेनदेन को बढ़ाना चाहते हैं।

जैसे आज के समय में आप एटीएम से 1 दिन में 40,000 रुपये तक निकाल सकते हैं, अगर आप इससे खुश नहीं हैं और इसे बढ़ाना चाहते हैं, तो आप इसे बढ़ाकर 50000 कर सकते हैं। (जिसके लिए आपसे अतिरिक्त शुल्क लिया जाता है। ) तो यह लेनदेन की सीमा बढ़ाने के लिए है।

लेनदेन की सीमा आप अपने हिसाब से घटाबढ़ा सकते हैं।

अलगअलग चीजों की अलगअलग लेनदेन की सीमा होती है।

जैसे ATM से निकासी 40,000/दिन, NEFT/RTGS 10,000/दिन, ऑनलाइन लेनदेन 1,00,000/दिन, लघु खाता NEFT/RTGS 5000/दिन

तो ये बैंक द्वारा निर्धारित कुछ सीमाएँ हैं जिनके अनुसार आप एक दिन में या एक महीने में इतने पैसे का लेनदेन कर सकते हैं।

यदि आप लेनदेन की सीमा की सूची देखना चाहते हैं तो आप वह भी देख सकते हैं। मैंने नीचे लिंक दिया है, आप लिंक के ऊपर क्लिक करके देख सकते हैं।

बैंक खाता लेनदेन सीमा बढ़ाने के लिए आवेदन।

सेवा,

बैंक मैनेजर

(बैंक का नाम,)

(शाखाजिला)

दिनांक–(DD-MM-YYYY)

विषय – एटीएम से लेनदेन की सीमा बढ़ाने के लिए।

           मैं विनम्रतापूर्वक अनुरोध करता हूं कि मैं (अपना नाम लिखें) आपके बैंक का खाताधारक हूं। मैं एक व्यवसायी हूं और मुझे हर दिन लेनदेन करना पड़ता है जिसके लिए कभीकभी 1 दिन में 60 से 70 हजार रुपये की भी आवश्यकता होती है, जबकि एटीएम द्वारा केवल 40 हजार रुपये की निकासी की सीमा तय की गई है।

मैं चाहता हूं कि मेरे एटीएम से निकासी की सीमा 50 हजार रुपए/दिन हो। ताकि मैं अपना बिजनेस अच्छे से चला सकूं और मुझे किसी भी तरह की परेशानी का सामना करना पड़े।

अत: श्रीमान जी से निवेदन है कि मेरे एटीएम से 50 हजार प्रतिदिन की निकासी की जाए। इसके लिए हम सदैव आपके आभारी रहेंगे।

आपका विश्वासी

नाम – (आपका नाम)

 / सी नं। – (खाता संख्या)

मो – (आपका मोबाइल नंबर)

दिनांक -(दिनमाहवर्ष)

(हस्ताक्षर)

उदाहरण: बैंक खाता लेनदेन सीमा बढ़ाने के लिए आवेदन।

सेवा,

श्रीमान बैंक मैनेजर

स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया,

बेली रोडपटना

दिनांक 21-06-2021

विषय – एटीएम से लेनदेन की सीमा बढ़ाने के लिए।

महोदय

        मैं विनम्रतापूर्वक अनुरोध करता हूं कि मैं (सुरेश साहू) आपके बैंक का खाताधारक हूं। मैं एक व्यवसायी हूं और मुझे हर दिन लेनदेन करना पड़ता है जिसके लिए कभीकभी 1 दिन में 60 से 70 हजार रुपये की भी आवश्यकता होती है, जबकि एटीएम द्वारा केवल 40 हजार रुपये की निकासी की सीमा तय की गई है।

मैं चाहता हूं कि मेरे एटीएम से निकासी की सीमा 50 हजार रुपए/दिन हो। ताकि मैं अपना बिजनेस अच्छे से चला सकूं और मुझे किसी भी तरह की परेशानी का सामना करना पड़े।

अत: श्रीमान जी से निवेदन है कि मेरे एटीएम से 50 हजार प्रतिदिन की निकासी की जाए। इसके लिए हम सदैव आपके आभारी रहेंगे।

धन्यवाद

आपका विश्वासी

आपका विश्वासी

नाम – (सुरेश साहू)

 / सी नं। – (12345678989)

मो – (9123456789)

दिनांक -( 21-06-2021)

(हस्ताक्षर)

पेपर प्रारूप: – बैंक खाता लेनदेन सीमा बढ़ाने के लिए आवेदन।

बैंक खाता लेनदेन सीमा बढ़ाने के लिए आवेदन

नोट :- अगर आप एनईएफटी/आरटीजीएस, क्रेडिट कार्ड में ट्रांजेक्शन बढ़ाना चाहते हैं या किसी और के लिए ट्रांजेक्शन लिमिट बढ़ाना चाहते हैं तो आपको इसी तरह से आवेदन लिखना चाहिए। मैंने यहाँ पर ATM और UPI का उदाहरण देते हुए लिखा है, आप ATM/UPI के स्थान पर अपना विषय लिखें। बाकी फॉर्मेट को वही रहने दें।

Transaction Limit बढ़ाने के फायदे और नुकसान

लेन-देन की सीमा बढ़ाने से ज्यादातर फायदा होता है। इससे आम लोगों को भी फायदा होता है और कारोबारियों को भी इसका फायदा मिलता है।

आजकल फोनपे, पेटीएम जैसे मोबाइल वॉलेट ऐप सामने आ रहे हैं, इसमें दिन भर में 5-7 ट्रांजेक्शन करने पर ईनाम जैसे ऑफर्स मिलते हैं। इसलिए यदि आपकी लेन-देन की सीमा अधिक है तो आपको अधिक पुरस्कार मिलने की संभावना अधिक होगी।

वहीं कारोबारियों को रोजाना कई लोगों को भुगतान करना पड़ता है, ऐसे में अगर लेन-देन की सीमा ज्यादा होगी तो वे ज्यादा लोगों को भुगतान कर सकेंगे.

इसका नुकसान यह है कि आपसे टैक्स वसूला जाएगा। हर बैंक अपने हिसाब से यह टैक्स या चार्ज लगाएगा। तो आप देख लें कि अगर चार्ज ज्यादा हैं तो उसे न बढ़ाएं और अगर चार्ज कम है तो बढ़ा दें।

वर्तमान में, UPI लेनदेन के लिए कोई शुल्क नहीं लगाया जाता है। भविष्य में ऐसा होने पर शुल्क 1-5 रुपये तक हो सकते हैं।

मुझे उम्मीद है कि आपको यह जानकारी पसंद आई होगी।

अपना महत्वपूर्ण समय देकर इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

अभी के लिए बस इतना हीजल्द ही हम एक नए विषय के साथ मिलेंगे।

यह सब बैंक खाता लेनदेन सीमा बढ़ाने के लिए आवेदन और जानकारी भी।

कृपया नीचे कमेंट करेंयदि आपके पास कोई क्वेश्चन है।

विजिट करते रहेंLETTER.INFOFRIENDLY.COM

Leave a Reply

Your email address will not be published.